हनुमान जी की आरती | Hanuman Ji Aarti PDF Download

हैलो दोस्तों अगर आप भी हनुमान जी की आरती हिंदी में पढना चाहते हैं तो हमने आपके लिए Hanuman Ji Aarti PDF in Hindi उपलब्ध कराया है जिसे आप आपने मोबाइल या कंप्यूटर में बड़ी ही आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं और इसका पाठ कर सकते हैं।

हनुमान जी की आरती शक्ति, भक्ति और निष्ठा के अवतार भगवान हनुमान को समर्पित एक शक्तिशाली भक्ति स्तोत्र है। ऐसा माना जाता है कि इस आरती को अत्यधिक भक्ति के साथ पढ़ने से आशीर्वाद, सुरक्षा और इच्छाओं की पूर्ति हो सकती है। भगवान हनुमान की दिव्य ऊर्जा का आह्वान करने के लिए अक्सर धार्मिक समारोहों, त्योहारों और व्यक्तिगत प्रार्थनाओं के दौरान आरती की जाती है।

हनुमान जी की आरती | Hanuman Ji Aarti

आरती कीजै हनुमान लला की ।

दुष्ट दलन रघुनाथ कला की ॥

जाके बल से गिरवर काँपे ।

रोग-दोष जाके निकट न झाँके ॥

अंजनि पुत्र महा बलदाई ।

संतन के प्रभु सदा सहाई ॥

आरती कीजै हनुमान लला की ॥

दे वीरा रघुनाथ पठाए ।

लंका जारि सिया सुधि लाये ॥

लंका सो कोट समुद्र सी खाई ।

जात पवनसुत बार न लाई ॥

आरती कीजै हनुमान लला की ॥

लंका जारि असुर संहारे ।

सियाराम जी के काज सँवारे ॥

लक्ष्मण मुर्छित पड़े सकारे ।

लाये संजिवन प्राण उबारे ॥

आरती कीजै हनुमान लला की ॥

पैठि पताल तोरि जमकारे ।

अहिरावण की भुजा उखारे ॥

क्लिक करो 👉  Hanuman Ji Ki Aarti in Hindi PDF

बाईं भुजा असुर दल मारे ।

दाहिने भुजा संतजन तारे ॥

आरती कीजै हनुमान लला की ॥

सुर-नर-मुनि जन आरती उतरें ।

जय जय जय हनुमान उचारें ॥

कंचन थार कपूर लौ छाई ।

आरती करत अंजना माई ॥

आरती कीजै हनुमान लला की ॥

जो हनुमानजी की आरती गावे ।

बसहिं बैकुंठ परम पद पावे ॥

लंक विध्वंस किये रघुराई ।

तुलसीदास स्वामी कीर्ति गाई ॥

आरती कीजै हनुमान लला की ।

दुष्ट दलन रघुनाथ कला की ॥

हनुमान जी की आरती का पाठ करने के लाभ

नियमित रूप से हनुमान जी की आरती का पाठ करने से भक्तों को कई लाभों का अनुभव हो सकता है:

बाधाओं पर काबू पाना: भगवान हनुमान को बाधाओं के निवारण के रूप में जाना जाता है। आरती का पाठ करके, भक्त जीवन में चुनौतियों और बाधाओं को दूर करने के लिए उनका आशीर्वाद मांगते हैं।

शक्ति और साहस: आरती भक्त के भीतर शक्ति, साहस और दृढ़ संकल्प की भावना पैदा करती है, जिससे वे जीवन की कठिनाइयों का सामना अनुग्रह और लचीलेपन के साथ कर पाते हैं।

आध्यात्मिक विकास: हनुमान जी की आरती भगवान हनुमान के साथ आध्यात्मिक संबंध को गहरा करने, आध्यात्मिक विकास को बढ़ावा देने और दिव्य चेतना को जगाने में मदद करती है।

संरक्षण और आशीर्वाद: आरती सुरक्षा के कवच के रूप में कार्य करती है और भगवान हनुमान से आशीर्वाद प्राप्त करती है, भक्तों को नकारात्मक ऊर्जा और नुकसान से बचाती है।

Leave a Comment