Khatu Shyam Aarti PDF Download

नमस्कार दोस्तों आज के इस लेख में आप सब खाटूश्याम जी के लिए गई जाने वाली आरती यानी कि Khatu Shyam Aarti PDF को डाउनलोड कर पायेंगें और “हारे का सहारा बाबा श्याम हमारा” से अपनी मनोकामना को पूरा का सकते हैं।

कौन हैं खाटूश्याम जी

हिंदू पौराणिक कथाओं के आनुसार खाटूश्यामजी (बर्बरीक) घटोत्कच के पुत्र है जिनका नाम बर्बरीक है। बर्बरीक को भगवान कृष्ण से वरदान दिया था कि कलियुग में उसे कृष्ण के ही नाम यानि (कल्युक के श्याम) के नाम से जाना जाएगा और उसकी पूजा की जाएगी।

खाटूश्यामजी (बर्बरीक) के भक्त केवल उनके दिल की गहराइयों से उनका नाम उच्चारण करने  धन्य हो जाएंगे। यदि वे सच्ची श्रद्धा से श्यामजी (बर्बरीक) की पूजा करेंगे तो उनकी मनोकामनाएँ पूरी होंगी और संकट दूर होंगे।

खाटूश्यामजी (बर्बरीक) के मंदिर की वास्तुकला शानदार और जगमोहन नामक बाहरी प्रार्थना कक्ष की दीवारों पर विस्तृत रूप से चित्रकारी की गई है, जिसमें कई पौराणिक दृश्यों को दर्शाया गया है। गर्भगृह के पट खूबसूरती से चांदी की चादरों से ढके हुए हैं। 

खाटूश्याम जी का मंदिर 

खाटूश्याम मंदिर राजस्थान राज्य के सीकर जिले में, सीकर से 48 किमी की दूरी पर और दिल्ली से 300 किमी (लगभग) पश्चिम में स्थित है। यह राजस्थान के सबसे महत्वपूर्ण तीर्थस्थलों में से एक है। 

क्लिक करो 👉  [FREE] Saraswati Aarti PDF | सरस्वती माता की आरती PDF

खाटूश्याम जी के जन्मोत्सव पर एक भव्य मेला लगता है यह की दुकानों में राजस्थान की मूल कारीगरी देखने को मिल जाती है जो आपका मन-मोह लेती हैं।

श्याम कुंड में स्नान

अगर आपने खाटूश्याम मंदिर के विषय में सुना है तो आपने अवश्य ही श्याम कुंड के विषय में सुना होगा यह मंदिर के पास पवित्र तालाब है यही से खाटूश्याम जी की मूर्ति प्राप्त हुई थी। ऐसा माना जाता है कि इस तालाब में डुबकी लगाने से व्यक्ति की सभी बीमारियाँ ठीक हो जाती हैं और उसे अच्छा स्वास्थ्य प्राप्त होता है। भक्ति उत्साह से भरे हुए, लोग श्याम कुंड में डुबकी लगाते हैं। वार्षिक फाल्गुन मेला उत्सव के दौरान स्नान करना विशेष रूप से लाभकारी माना जाता है।

तो आप जब भी जयपुर जाएँ खाटूश्याम मंदिर बाबा के दर्शन करने के लिए तो पवित्र श्याम कुंड में स्नान जरुर करें और स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करें, तो चलिये अब जान लेते है खाटूश्याम जी की आरती के विषय में

खाटूश्याम जी की आरती 

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे।

खाटू धाम विराजत, अनुपम रूप धरे॥

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे॥

रतन जड़ित सिंहासन, सिर पर चंवर ढुरे ।

तन केसरिया बागो, कुण्डल श्रवण पड़े ॥

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे॥

गल पुष्पों की माला, सिर पार मुकुट धरे ।

खेवत धूप अग्नि पर, दीपक ज्योति जले ॥

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे॥

मोदक खीर चूरमा, सुवरण थाल भरे ।

सेवक भोग लगावत, सेवा नित्य करे ॥

क्लिक करो 👉  संतोषी माता आरती | Santoshi Mata Aarti PDF in Hindi

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे॥

झांझ कटोरा और घडियावल, शंख मृदंग घुरे ।

भक्त आरती गावे, जय-जयकार करे ॥

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे॥

जो ध्यावे फल पावे, सब दुःख से उबरे ।

सेवक जन निज मुख से, श्री श्याम-श्याम उचरे ॥

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे॥

श्री श्याम बिहारी जी की आरती, जो कोई नर गावे ।

कहत भक्त-जन, मनवांछित फल पावे ॥

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे॥

जय श्री श्याम हरे, बाबा जी श्री श्याम हरे ।

निज भक्तों के तुमने, पूरण काज करे ॥

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे॥

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे।

खाटू धाम विराजत, अनुपम रूप धरे॥

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे॥

॥ इति॥

इसे

खाटू श्याम जी मंदिर में की जाने वाली आरती के प्रकार

  • मंगला आरती: यह सुबह-सुबह मंदिर खुलने पर की जाती है।
  • श्रृंगार आरती: यह आरती बाबा श्याम के श्रृंगार के समय की जाती है। इस समय उनकी मूर्ति का भव्य श्रृंगार किया गया है।
  • भोग आरती: यह आरती दोपहर के समय की जाती है जब भगवान को भोग (प्रसादम) परोसा जाता है।
  • संध्या आरती: यह आरती शाम को सूर्यास्त के समय की जाती है।
  • सयाना आरती: यह आरती रात में मंदिर बंद होने से पहले की जाती है।

इन सभी अवसरों पर दो विशेष भजन, श्री श्याम आरती और श्री श्याम विनती, का जाप किया जाता है। श्री श्याम मंत्र भगवान के नामों का एक और मंत्र है जिसका भक्तों द्वारा जाप किया जाता है।

क्लिक करो 👉  भैरव जी की आरती | Bhairav Aarti PDF

Khatu Shyam Aarti PDF यहाँ से प्राप्त करें

उम्मीद करते है दोस्तों आपको ये लेख खाटूश्याम की आरती पसंद आई होगी यहाँ से न सिर्फ आप खाटूश्याम जी की आरती पढ़ सकते है बल्कि Khatu Shyam Aarti PDF प्राप्त कर सकते है।

Leave a Comment